यूनाइटेड किंगडम


युनाइटेड किंगडम यूरोप महाद्वीप के पश्चिमोत्तर तट पर स्थित है। यहां संवैधानिक राजतंत्र है और इस देश ने एक समय दुनिया के बड़े भूभाग पर राज किया था।

विशेष तथ्य

 

राजधानी
लंदन
 सबसे बड़ा शहर  लंदन
 प्रमुख भाषा  अंग्रेजी
 सरकार  संवैधानिक राजतंत्र
 इंटरनेट टीएलडी
 .uk
 दूरभाष कोड  +44

भारत के साथ सम्बन्ध

भारत और ब्रिटेन के बीच संबंधों में लगातार मजबूती आ रही है। दोनों देश पर्यावरण संरक्षण पर मिलकर काम करने को राजी हो चुके हैं। भारत के संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्यता के दावे पर ब्रिटेन का सकारात्मक रुख है। ब्रिटेन भारत के साथ शिक्षा क्षेत्र में भी सहयोग स्थापित करना चाहता है।

यूनाइटेड किंगडम ऑफ ग्रेट ब्रिटेन एंड नॉर्दर्न आयरलैण्ड

कुल क्षेत्रफल : 243,610 वर्ग किमी., भू क्षेत्रफल : 214,930 वर्ग किमी., जलीय क्षेत्रफल : 1,680 वर्ग किमी., स्थल सीमा रेखा : 360 किमी., समुद्र तट रेखा : 12,429 किमी.

जनसंख्या : 62,348,447 (जुलाई 2010 अनु.); जनसंख्या आयु वर्ग :  0-14 वर्ष 16.7', 15-64 वर्ष 67.1', 65 से अधिक 16.2'; जनसंख्या वृद्घिदर : 0.563' (2010 अनु.),

जन्मदर: 12.34/1000 (2010 अनु.);  मृत्युदर: 9.33/1000 (2010 अनु.); आयु प्रत्याशा: 79.92,  पुरूष : 77.84,  महिला : 82.11 (2010 अनु.); लिंगानुपात : 1.052 पुरूष/महिला, शिशु मृत्युदर : 4.69/1000 शिशु, नगरीकरण : कुल आबादी का 90'.

प्रमुख शहर : लंदन, ग्लासग, बॢमंघम, लिवरपूल, मैनचेस्टर, ब्रैडफोड.

भौगोलिक संरचना

यूनाइटेड किंगडम में ग्रेट ब्रिटेन, उत्तरी आयरलैंड और लगभग 4000 अन्य द्वीप शामिल हैं।

राजनीतिक संरचना

यहां संवैधानिक राजतंत्र प्रणाली है और महारानी राष्ट्राध्यक्ष हैं किन्तु उनका यह पद सांकेतिक मात्र है। ब्रिटिश संसद के दो सदन- हाउस ऑफ लॉडर्स (ऊपरी सदन) व हाउस ऑफ कॉमंस (निम्न सदन) हैं। हाउस ऑफ लॉडर्स में 574 व हाउस ऑफ कॉमंस में 651 सदस्य होते हैं। संसद का शासनकाल 5 वर्ष का होता है। हाउस ऑफ लॉडर्स की अधिकांश शक्ति 1911 में छीन ली गई थी।  सम्राट की कार्यकारी शक्ति कैबिनेट में हैं जिसका मुखिया प्रधानमंत्री होता है।

इंग्लैण्ड का एकीकरण 10वीं शताब्दी में हुआ था। 1284 में इंग्लैण्ड व वेल्स का संघ बन गया था। 1707 के एक्ट ऑफ यूनियन के द्वारा इंग्लैण्ड व स्कॉटलैंड ने मिलकर ग्रेट ब्रिटेन की घोषणा की गई। 1801 में ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैण्ड ने मिलकर संघ बनाया। 1921 में एंग्लो-आयरिश संधि के द्वारा आयरलैंड का विभाजन हो गया। उत्तरी आयरलैण्ड की छह उत्तरी आयरिंग काउंटियों ने उत्तरी आयरलैण्ड के रूप में यूनाइटेड किंगडम में रहने का फैसला किया। 1927 में देश का वर्तमान नाम यूनाइटेड किंगडम ऑफ ग्रेट ब्रिटेन एंड नॉर्दर्न आयरलैण्ड स्वीकार किया गया।

इतिहास

प्रागैतिहासिक काल में ब्रिटेन के आरंभिक निवासियों की बनाई हुई संरचना 'स्टोनहेंज' आज भी मौजूद हैं। इसके पश्चात् सेल्टिक लोगों ने इसे अपना निवास स्थल बनाया। पहली शताब्दी ई.पू. में रोमन आक्रमण की वजह से पहली बार ब्रिटेन का महाद्वीपीय यूरोप से प्रथम बार सम्पर्क स्थापित हुआ। ब्रिटेन में सात बड़े ऐंग्लो-सैक्सन साम्राज्यों की स्थापना हुई और यहाँ के मूल निवासी वेल्स व स्कॉटलैण्ड में जा कर बस गए। 10वीं शताब्दी में वेसेक्स के राजा के नेतृत्व में देश का पूर्ण एकीकरण हो गया।

हेनरी द्वितीय (1154-1189ई.) के शासनकाल के दौरान सामंतों की शक्तियों का ह्वास हुआ और राजतंत्र मजबूत हुआ। लेकिन 1215 ई. में सम्राट जॉन (1199-1216ई.) को मजबूरन मैग्ना कार्टा पर हस्ताक्षर करने पड़े। मैग्नाकार्टा ने जनता को व्यापक अधिकार प्रदान किए। 13वीं व 14वीं शताब्दियों के दौरान संसद के नए सदन 'हाउस ऑफ कॉमंसÓ की स्थापना की गई जिसे करारोपण के अधिकार दिए गए। एडवर्ड तृतीय द्वारा फ्रांस की गद्दी पर अधिकार जताने की वजह से इंग्लैण्ड-फ्रांस के मध्य 100 वर्षीय युद्ध (1338-1453) हुआ जिससे ब्रिटेन को भारी नुकसान हुआ।

सम्राट हेनरी अष्टïम (1509-1547 ई.) के शासनकाल में इंग्लैण्ड के चर्च ने रोमन कैथोलिक चर्च से अपने को स्वतंत्र घोषित कर दिया। ऐलिजाबेथ प्रथम (1558-1603) ने इंग्लैण्ड के चर्च की स्थापना की। एलिजाबेथ के शासनकाल के दौरान इंग्लैण्ड वैश्विक शक्ति के रूप में उभरा। 1642 में स्टुअर्ट सम्राट चाल्र्स प्रथम और संसद के मध्य गृहयुद्ध शुरु हो गया। चाल्र्स को युद्ध में पराजय मिली और उसे मृत्युदंड दिया गया। इसके बाद राजशाही की समाप्ति हो गई और लॉर्ड प्रोटेक्टर ऑलीवर क्रॉमवेल के नेतृत्व में सरकार की स्थापना हुई। क्रॉमवेल की मृत्यु के पश्चात सरकार का पतन हो गया और 1660 में सम्राट चाल्र्स द्वितीय का राज्यारोहण हो गया। जेम्स द्वितीय (1685-1688) को क्रांति के द्वारा गद्दी से हटा दिया गया और संसद की श्रेष्ठता स्थापित हुई। 1707 में एक्ट ऑफ यूनियन के द्वारा इंग्लैण्ड में स्कॉटलैण्ड का विलय हो गया। 1775-1781 के दौरान ब्रिटिश महत्वकांक्षाओं को अमेरिका में जबर्दस्त झटका लगा और अमेरिका ब्रिटिश साम्राज्य से स्वतंत्र हो गया। फ्रांस में नेपोलियन के शासनकाल में ब्रिटेन का फ्रांस से टकराव हुआ और 1815 में नेपोलियन की वाटरलू के युद्ध में पराजय से इसका अंत।
विक्टोरिया युग (1887-1901) में ब्रिटेन ने रूस के खिलाफ क्रीमिया युद्ध और हॉलैण्ड के खिलाफ बोअर युद्ध (1899-1902) लड़ा। प्रथम विश्वयुद्ध में ब्रिटेन ने मित्र राष्ट्रों का गठबंधन बनाकर युद्ध का नेतृत्व किया।

1 सितम्बर, 1939 को पोलैण्ड पर जर्मनी के आक्रमण के साथ ही द्वितीय विश्वयुद्ध की शुरुआत हो गई। 1940 में मित्र राष्ट्रों को जर्मनी के हाथों कई मोर्चों पर मुँह की खानी पड़ी। इसके फलस्वरूप, प्रधानमंत्री नेविल चेम्बरलिन को इस्तीफा देना पड़ा और कंजरवेटिव विंस्टन चॢचल के नेतृत्व में सरकार का गठन हुआ। चॢचल ने द्वितीय विश्वयुद्ध में ब्रिटेन का शानदार तरीके से नेतृत्व किया। विश्वयुद्ध की समाप्ति के बाद सम्पन्न आम चुनाव में चॢचल को करारी शिकस्त मिली और ब्रिटेन की औपनिवेशिक शक्ति का पराभव होना शुरू हो गया।
3 मई, 1979 को मार्गरेट थैचर के नेतृत्व में कंजरवेटिव सरकार का गठन हुआ। थैचर ब्रिटेन की पहली महिला प्रधानमंत्री थीं।

मई 1997 में टोनी ब्लेयर ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बने। ब्लेयर के संवैधानिक सुधारों के तहत वेल्स और स्कॉटलैण्ड में अलग संसदों की स्थापना की गई। जुलाई 1997 में ब्रिटेन ने चीन को हाँगकाँग सौंप दिया। 1998 में 'गुड फ्राइडे' समझौते के तहत ब्लेयर ने उत्तरी आयरलैण्ड में कैथोलिक व प्रोटेस्टेंट समुदायों के मध्य शांति स्थापित करने का प्रयास किया। 11 सितम्बर 2001 को अमेरिका पर आतंकवादी हमले के बाद टोनी ब्लेयर अमेरिका के सबसे बड़े दोस्त के रूप में उभरकर सामने आए। अफगानिस्तान के खिलाफ हमले में अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन का ब्रिटेन ने बखूबी साथ दिया। इसी तरह से इराक पर अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन का भी ब्रिटेन ने साथ दिया। देश में भारी विरोध के बावजूद भी टोनी ब्लेयर ने इराक पर हमले के लिए 45,000 ब्रिटिश सैनिक भेजे।

5 मई, 2005 को सम्पन्न आम चुनाव में ब्लेयर तीसरी बार ब्रिटेन के प्रधानमंत्री चुने गए। हालांकि लेबर पार्टी का जीत प्रतिशत पूर्व चुनावों से काफी ज्यादा घट गया। 7 जुलाई 2005 को लंदन में आतंकवादियों ने जबर्दस्त हमला किया। सबवे रेलवे स्टेशन व बस में किए गए हमले में 50 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हुई।
जनवरी 2009 में द बैंक ऑफ इंग्लैंड ने ब्याज दरों में कटौती की। बैंक के 315 साल के इतिहास में पहली बार ब्याज दरें इतनी कम हुईं।

आर्थिक

युनाइटेड किंगडम विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था एवं क्रय शक्ति के हिसाब से सातवां बड़ा देश है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्य इस देश को विश्व का पहला औद्योगिक देश भी कहा जाता है।

आॢथक आंकड़े

सकल घरेलू उत्पाद (क्रयशक्ति): 2.128 खरब डॉलर (2009 अनु.), सकल घरेलू उत्पादन (आधिकारिक विनिमय दर पर) : 2.184 खरब डॉलर, जीडीपी (वास्तविक वृद्घिदर) : -4.9' (2009 अनु.), सकल घरेलू उत्पाद (प्रति व्यक्ति क्रयशक्ति) : 34.800 यूएस डॉलर, क्षेत्रवार सकल घरेलू उत्पाद: एग्रीकल्चर 1.2',    इंडस्ट्री 23.8', सर्विस 75'(2009 अनु.), श्रमशक्ति: 3.136 करोड़, क्षेत्रवार श्रमशक्ति: कृषि : 1.4', उद्योग : 18.2', सेवा क्षेत्र : 80.4' (2006 अनु.), बेरोजगारी दर :  7.6' (2009 अनु.), गरीबी की रेखा के नीचे जनसंख्या : 14' (2006 अनु.), बजट :  880.8 अरब डॉलर, खर्च : 1.129 खरब डॉलर, सार्वजनिक ऋण : जीडीपी का 68.1' (2008 अनु.), मुद्रास्फीति (उपभोक्ता मूल्य पर) : 2.2' (2009 अनु.), कृषि: दालें, तिलहन, आलू, सब्जियाँ; मवेशी, भेड़, पोल्ट्री, मत्स्य पालन, उद्योग: मशीन टूल्स, विद्युत उपकरण, ऑटोमेशन उपकरण, रेलरोड उपकरण, जहाज निर्माण, एयरक्राफ्ट, मोटर वाहन व कलपुर्जे, इलेक्ट्रॉनिक व संचार उपकरण, धातु, रसायन, कोयला, पेट्रोलियम, कागज व कागज उत्पाद, खाद्य प्रसंस्करण, टेक्सटाइल, कपड़े, अन्य उपभोक्ता वस्तुएं; प्राकृतिक संसाधन: कोयला, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, टिन, लाइमस्टोन, लौह अयस्क, नमक, मिट्टी, चाक, जिप्सम, लेड, सिलिका; औद्योगिक उत्पादन वृद्घिदर : -9.8' (2009 अनु.), विद्युत उत्पादन : 368.6 अरब किलो वाट प्रति घंटा (2007 अनु.), कच्चा तेल उत्पादन : 15.02 लाख बीबीएल/दिन (2009 अनु.), प्राकृतिक गैस उत्पादन : 58.56 अरब घन मीटर (2009 अनु.),  निर्यात: 357.3 अरब डॉलर (2009 अनु.); निर्यात सामग्री : ईंधन, रसायन, बेवरेज़ेज, तम्बाकू; प्रमुख साझेदार : संयुक्त राज्य अमेरिका 14.71', जर्मनी 11.06', फ्रांस 8', नीदरलैंड 7.79', आयरलैंड 6.89', बेल्जियम 4.65', स्पेन 4'. (2009 अनु.).
आयात: 468 अरब डॉलर (2009 अनु.); आयात सामग्री :  मशीनरी, ईंधन; प्रमुख साझेदार: जर्मनी 12.87', संयुक्त राज्य अमेरिका 9.74', चीन 8.88', नीदरलैंड 6.94', फ्रांस 6.64, बेल्जियम 4.86', नार्वे 4.84', आयरलैंड 4.01', इटली 3.99' (2009)।
संचार: टेलीफोन: लैंडलाइन 3.32 करोड़ (2008); मोबाइल सेल्युलर: 7.5 करोड़ (2008); रेडियो ब्रॉडकास्ट स्टेशन: एएम 219; एफ एम 431; शॉर्टवेव 3 (1998); रेडियो: 84.5 मिलियन (1997); टेलीविजन ब्रॉडकास्ट स्टेशन: 228 (1995); टेलीविजन: 30.5 मिलियन (1997); इंटरनेट प्रयोगकर्ता: 4.8 करोड़ (2008);
परिवहन: रेलवे : कुल 16,567 किमी; राजमार्ग: कुल 398,366 किमी.; जलमार्ग: 3,200 किमी; बंदरगाह: अबेरडीन, बेलफास्ट, ब्रिस्टल, काॢडफ, डॉवर, फालमाउथ, फेलिक्सस्टोव, ग्लासगो, ग्रेन्गामाउथ, हल, लीथ, लीवरपूल, लंदन, मैनचेस्टर, पीटरहैड, प्लाइमाउथ, पोटर्ससाउथ, स्काया फ्लो, साउथैम्पटन, टीज़पोर्ट, टाइन; हवाई अड्डे : 510 (2008); मर्चेंट नेबी : कुल 518 जहाज।
धर्म: यूनाइटेड किंगडम एक ईसाई बहुसंख्यक देश है। यहां के तकरीबन 71.6' लोग इस धर्म में पूरी आस्था रखते हैं। इनके अलावा यहां पर इस्लाम 2.7', हिन्दू 1' सहित कई अन्य धर्मों को मानने वाले भी रहते हैं।
जातीय समूह: वहां तकरीबन 85.67' श्वेत ब्रिटिश, 5.27 अन्य देशों के श्वेत नागरिक, 1.8' भारतीय, 1.3' पाकिस्तानी, 1.2' आयरिश मूल के लोग, 1.2' मिश्रित समूह एवं 0.8' अफ्रीकन मूल के निवासी भी रहते हैं।
भाषाएं: यूनाइटेड किंगडम में लगभग सारा काम अंग्रेजी भाषा में ही किया जाता है। अंग्रेजी के साथ-साथ वेल्स, स्कॉट गेलिक आदि कुछ अन्य भाषाएं भी बोली जाती हैं।
खेल: क्रिकेट, फुटबाल, रग्बी, बाक्सिंग, टेनिस और गोल्फ यूनाइटेड किंगडम के प्रमुख खेल हैं। क्रिकेट कभी वहां सर्वाधिक लोकप्रिय खेल था लेकिन सन 2006 में किए गए एक सर्वे से यह बात सामने आ गई है कि अब फुटबाल वहां के नागरिकों की पहली पसंद बन चुका है।
शिक्षा: अंतर्राष्ट्रीय स्तर की उच्च शिक्षा के कारण यह देश हमेशा विदेशी छात्रों को आकर्षित करता रहा है। यहां की उच्च शिक्षा की गुणवत्ता का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि सन 2008 विश्व यूनिवर्सिटी रैंकिंग में यहां की यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज, यूनिवर्सिटी ऑफ आक्सफोर्ट, इंपीरियल कॉलेज लंदन और यूनिवर्सिटी कालेज लंदन को शुरू के 10 में जगह दी गई थी। वहां के 99' लोग साक्षर हैं।

जर्मनी

जर्मनी

प्राचीन रोमन डैन्यूब नदी के उत्तर में रहने वाले बर्बर कबीलों वाले देशों को गेर्मानिया कहा जाता था, इसी के नाम पर अंग्रेजी शब्द जर्मनी' पड़ा। धीरे-धीरे इन कबीलों का ईसाइकरण हुआ और यह देश ईसाई पवित्र रोमन साम्राज्य का केन्द्र बन गया।

विशेष तथ्य

 

राजधानी बर्लिन
सबसे बड़ा शहर बर्लिन
प्रमुख भाषा जर्मन
सरकार संघीय सरकार
इंटरनेट टीएलडी .de
दूरभाष कोड +49

भारत के साथ सम्बन्ध

जर्मन चांसलर एंजेला डोरोथिया मर्केल भारत के साथ आर्थिक संबन्धों को दीर्धकालिक करना चाहती हैं। अपनी भारत यात्रा के दौरान उन्होंने इस दिशा में रणनीतिक साझेदारी के समझौते पर हस्ताक्षर किए। हाल के वर्षों में भारत एवं जर्मनी के बीच वार्षिक व्यापार दर तेजी से बढ़ी है। इसमें मर्केल की सराहनीय भूमिका है।

कुल क्षेत्रफल :  357,022 वर्ग किमी., भू-क्षेत्रफल : 348,672 वर्ग किमी., जलीय क्षेत्रफल : 8,350 वर्ग किमी., स्थल सीमा रेखा : 3,621 किमी. समुद्री तट रेखा : 2,389 किमी.

जनसंख्या : 82,282,988 (2010 अनु.); जनसंख्या आयुवर्ग : 0-18 वर्ष 13.7', 15-64 वर्ष 66.1', 65 वर्ष से अधिक20.3'; जनसंख्या वृद्धि दर : -0.06' (2010 अनु.); जन्म दर: 8.21/1000; मृत्यु दर: 11/1000; आयु प्रत्याशा: 79.41 वर्ष,  पुरूष 76.41 वर्ष, महिला 82.57 वर्ष; लिंगानुपात : 1.055 पुरूष/महिला; शिशु मृत्युदर : 3.95/1000; नगरीकरण : कुल आबादी का 74';

प्रमुख शहर : बॢलन, हैम्बग, म्यूनिख, कोलोन, फ्रैंकफत, इस्सेन, डॉर्टमुंड, स्टुटगार्ट, डसेलडॉर्फ, ब्रेमेन, हेनोबर, ड्यूशबग.

भौगोलिक संरचना

जर्मनी की उत्तर दिशा में उत्तर सागर और बाल्टिक है और दक्षिण में आल्पस लेक कांसटेंस और नदी दक्षिण-पश्चिम सीमा तक है। प्रमुख नदियाँ, दानुबे दि एल्बे, दि वासेर और दि मोसेल्ले हैं। इसमें 16 राज्य हैं।

राजनीतिक संरचना

यहाँ संघीय शासन व्यवस्था है। संघीय परिषद या उच्च सदन के उन्यासी सदस्यों समेत 3 से 6 सदस्यों की नियुक्ति अल्प अवधि के लिए राज्य सरकारों द्वारा की जाती है। संघीय सभा या निम्र सदन में छ: सौ बासठ सदस्य होते हैं। जिनका निर्वाचन चुनाव द्वारा चार वर्षों के लिये किया जाता है। संघीय सभा जर्मनी के चांसलर का चुनाव करती है तथा चांसलर मंत्रिपरिषद का गठन करता है। राष्टरपति सदन द्वारा मनोनीत किया जाता है।

इतिहास

सेल्टों को जर्मनी का प्रारंभिक नागरिक माना जाता है। इसके पश्चात् द्वितीय शताब्दी ई.पू. में जर्मन जनजातियों ने यहाँ बसना शुरु किया। चौथी व पांचवीं शताब्दी ई. में रोमन साम्राज्य पर जर्मन निवासियों ने कई आक्रमण किए। इनमें से एक जनजाति फ्रैंक ने चार्ले मैग्ने के नेतृत्व में पश्चिमी यूरोप में अपना प्रभुत्व स्थापित किया। 843 ई. में बेरहुन की संधि से राइन के पूर्व की भूमि को चार्ले मैग्ने ने जर्मन प्रिंस लुईस को प्रदान कर दी।

14वीं शताब्दी तक पवित्र रोमन साम्राज्य का आशय जर्मन साम्राज्य से ही था, जहाँ के प्रिंस पवित्र रोमन सम्राट को चुनते थे। 1438 में हैम्सबर्ग के अल्बर्ट सम्राट ने और 1806 तक पवित्र रोमन साम्राज्य पर इसी वंश का शासन रहा।

इसी बीच प्रसिया एक शक्तिशाली राज्य के रूप में उभर रहा था। सिलेसिया के मुद्दे पर फ्रेडरिक महान (1740-1786 ई) ने प्रसिया की सेना को संगठित करके ऑस्ट्रिया की मारिया थेरेसा को पराजित किया। वाटरलू की लड़ाई (1816 ई.) में नेपोलियन की पराजय के पश्चात् जर्मनी में प्रभुत्व के लिए ऑस्ट्रिया और प्रसिया के मध्य रस्साकसी चलती रही जिसकी परिणति ऑस्ट्रिया (1866) की पराजय में हुई और उत्तर जर्मन परिसंघ (1867) की स्थापना की गई। इस जर्मन एकता के सूत्रधार प्रसिया के प्रधानमंत्री ओट्टो वॉन बिस्मार्क थे। उन्होंने डेनमार्क, ऑस्ट्रिया और फ्रांस के खिलाफ युद्ध छेड़कर सम्पूर्ण जर्मनी को एकता के सूत्र में बांधा। 18 जनवरी, 1871 को प्रसिया के सम्राट विल्हेल्म प्रथम को जर्मन सम्राट घोषित किया गया। शक्तिशाली सेना, कुशल नौकरशाही और निष्ठïावान मध्यम वर्ग की सहायता से बिस्मार्क ने एक शक्तिशाली केंद्रीकृत जर्मनी के निर्माण में सफलता प्राप्त की।

1890 में सम्राट विल्हेल्म ने बिस्मार्क को अपदस्थ कर दिया और उपनिवेशवाद की नीति अपनाते हुए शक्तिशाली नौसेना की स्थापना की। प्रथम विश्वयुद्ध में जर्मनी की जबर्दस्त पराजय हुई (1914-1918)। युद्ध के पश्चात सम्राट कैसर ने नीदरलैण्ड में शरण ली। ऐसी स्थिति में फ्रेडरिक इबर्ट और फिलिप शीडमान के नेतृत्व में सोशल डेमोक्रेट्स ने 'वेयमार रिपब्लिकÓ की स्थापना की। प्रथम विश्वयुद्ध का सर्वाधिक दुष्परिणाम जर्मनी को झेलना पड़ा। वर्साय की संधि से उसकी सेना समाप्त कर दी गई और उस पर भारी जुर्माना ठोका गया।

ऐसे में एडोल्फ हिटलर का उदय हुआ। 30 जनवरी, 1933 को राष्टï्रपति वॉन हिंडनबर्ग ने हिटलर को चांसलर नियुक्त कर दिया। 2 अगस्त, 1934 को राष्टरपति हिंडनबर्ग की मृत्यु हो गई। हिटलर ने वर्साय की संधि का परित्याग करते हुए जर्मनी का सैन्यीकरण जोर-शोर से शुरू कर दिया। 1935 में उसने जर्मनी को 'लीग ऑफ नेशन्स' से बाहर निकाल लिया और राइनलैंड पर कब्जा कर लिया। इसी के साथ उसने जापान और इटली से रिश्ते भी मजबूत किए। मार्च 1938 में जर्मनी ने ऑस्ट्रिया पर कब्जा कर लिया। 1 सितम्बर, 1939 को पोलैण्ड पर जर्मनी के हमले से द्वितीय विश्वयुद्ध की शुरुआत हुई।

द्वितीय विश्वयुद्ध में जर्मनी को आरंभ में शानदार सफलताएं मिलीं, किंतु बाद में उसे जबर्दस्त पराजय का सामना करना पड़ा। 8 मई, 1945 को जर्मनी ने मित्र राष्टरों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान हिटलर के आदेश पर लगभग 60 लाख यहूदियों की हत्या की गई। युद्ध की समाप्ति के बाद मित्र राष्टरों ने बॢलन कांफ्रेंस के द्वारा जर्मनी को चार भागों में बाँट दिया। सं.रा. अमेरिका व सोवियत संघ के मध्य जर्मनी को लेकर तीखे मतभेद उभरे। 31 मई, 1948 को सं.रा. अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस इत्यादि ने तीन पश्चिमी क्षेत्रों को आपस में मिलाकर एक जर्मन राज्य स्थापित करने पर सहमति व्यक्त की।

23 मई, 1949 को सोवियत हिस्से वाले जर्मनी को फेडरल रिपब्लिक ऑफ जर्मनी घोषित करके बोन को उसकी राजधानी बनाया गया। वहाँ सोवियत यूनिटी (कम्युनिस्ट पार्टी) के नेतृत्व में एक दलीय शासन व्यवस्था की स्थापना की गई। 7 अक्टूबर, 1949 को एक केंद्रीकृत संविधान को अपनाया गया।

दोनों जर्मन देशों के मध्य अविश्वास की खाई उस समय और गहरा गई जब 1961 में पूर्वी जर्मनी ने बर्लिन दीवार का निर्माण कराया। ऐसी परिस्थितियों में पश्चिमी जर्मनी अमेरिका व यूरोपीय देशों के और करीब आ गया।

1982 में क्रिश्चियन डेमोक्रेट पार्टी के हेलमुट कोल पश्चिमी जर्मनी के नए चांसलर चुने गए। इनके शासनकाल के दौरान पश्चिमी जर्मनी ने आॢथक विकास की नई बुलंदियाँ छुईं। 1989 में पूर्वी जर्मनी में कम्युनिस्ट पार्टी का पतन हो गया। 9 नवम्बर, 1989 को बॢलन दीवार तोड़ दी गई। जुलाई, 1990 में सोवियत राष्टï्रपति मिखाइल गोर्बाचोव द्वारा नर्म रुख अपनाने के बाद दोनों जर्मन राष्टï्रों के एकीकरण का रास्ता प्रशस्त हो गया। 3 अक्टूबर 1990 को पूर्वी जर्मनी का पश्चिमी जर्मनी में एकीकरण हो गया।
27 सितम्बर, 1998 को एक महत्वपूर्ण चुनाव में सोशल डेमोक्रेट पार्टी के गेरहार्ड श्रोएडर ने हेलमुट कोल के 16 वर्षीय शासन का अंत कर दिया। 1999 में जर्मनी ने कोसोवो युद्ध में नाटो का साथ दिया। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद यह पहली बार था जब जर्मन सेना ने किसी युद्ध में भाग लिया। 8 सितम्बर 2005 को हुए आम चुनाव में गेरहार्ड श्रोएडर की सोशल डेमोक्रेट पार्टी पराजित हुई और सीडीयू/सीएसयू की एंजेला मर्केल ने गठबंधन सरकार का गठन किया।

आर्थिक

यह यूरोप की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और सकल घरेलू उत्पाद के मामले में इसका विश्व में चौथा स्थान है। जर्मनी की जीडीपी में सेवा क्षेत्र का 70 प्रतिशत योगदान है।
आॢथक आंकड़े

सकल घरेलू उत्पाद (क्रयशक्ति) : 2.81 खरब अमेरिकी डॉलर(2009 अनु.); सकल घरेलू उत्पाद (आधिकारिक विनिमय दर) : 3.353 खरब डॉलर; जीडीपी वास्तविकवृद्धि दर : -4.9' (2009 अनु.); सकल घरेलू उत्पाद प्रति व्यक्ति (क्रय शक्ति): 34,100 डॉलर (2009 अनु.); क्षेत्रवार सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति) : कृषि 0.9', उद्योग 26.8', सेवा क्षेत्र 72.3'; श्रम शक्ति : 4.35 करोड (2009 अनु.),  क्षेत्रवार श्रमशक्ति : कृषि 2.4', तकनीकी 29.7', सेवा क्षेत्र 67.8' (2005), बेरोजगारी दर: 7.5' (2009 अनु.), गरीबी रेखा के नीचे जनसंख्या : 11' (2001 अनु.),  बजट : 1.507 खरब डॉलर, खर्च : 1.618 खरब डॉलर, सार्वजनिक ऋण : सकल घरेलू उत्पाद का 72.1' (2009 अनु.), मुद्रास्फीति उपभोक्ता मूल्य पर : ०.3' (2009 अनु.), उद्योग: लोहा, स्टील, कोयला, सीमेंट, केमिकल्स, मशीनरी, वाहन, मशीन टूल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, फूड व बेवरेजि़ज, पोत निर्माण, टेक्सटाइल; प्राकृतिक संसाधन: लौह अयस्क, कोयला, पोटाश, टिम्बर, लिग्नाइट, यूरेनियम, तांबा, प्राकृतिक गैस, नमक, निकिल;
औद्योगिक उत्पादन वृद्घिदर : -11' (2009 अनु.), विद्युत उत्पादन : 593.4 अरब किलो वॉट प्रति घंटा, कच्चा तेल उत्पादन : 156,800 बीबीएल/दिन (2009 अनु.), प्राकृतिक गैस उत्पादन : 15.29 अरब घन मीटर (2009 अनु.), निर्यात : 1.159 खरब डॉलर, निर्यात सामग्रियां : मशीनरी, वाहन, कैमिकल, धातु, टेक्सटाइल, प्रमुख साझेदार : फ्रांस 10.2', अमेरिका : 6.7', नीदरलैंड 6.7', युनाइटेड किंगडम 6.6', इटली 6.3', आस्ट्रिया 6', चीन 4.5', स्विटजरलैंड 4.4' (2009), आयात: 966.9 अरब डॉलर(2009 अनु.),  आयात सामग्री : मशीनरी, वाहन, केमिकल्स, फूड प्रसंस्करण, टेक्सटाइल्स, मेटल; प्रमुख साझेदार : नीदरलैंड 12.71', फ्रांस 8.3', बेल्जियम 7.19', चीन 6.89', इटली 5.88', आस्ट्रिया 4.55', यूनाइटेड स्टेट 4.25', स्विटजरलैंड 4.07' (2009).
संचार - टेलीफोन: लैंड लाइन (5.15 करोड़, 2008); मोबाइल सेल्युलर: 10.72 करोड़ (2008); रेडियो ब्रॉडकास्ट स्टेशन: एएम-51, एफ एम-767, शॉर्टवेव 4 (1998); टेलीविज़न ब्रॉडकास्ट स्टेशन: 373;
इंटरनेट प्रयोगकर्ता: 6.19 करोड़ (2008)।
परिवहन- रेलवे: 41,896 किमी. (2008); राजमार्ग: कुल 644,480 किमी.; जलमार्ग: 7,467 किमी.; बंदरगाह: ब्रेमेन, ब्रेमेर हावेन, ब्रुन्सबुट्टïेल, ड्यूशबर्ग, फ्रैंकफुर्त, हैम्बर्ग, काल्र्सरूहे, मेंज़, रास्टॉक, विल्हेम्सहावेन; हवाई अड्डïे : 550 (2009); मर्चेंट नेबी : कुल जहाज 393.
धर्म - जर्मनी एक ईसाई बहुल देश है। यहां के तकरीबन 34' लोग प्रोटेस्टेंट एवं 34' कैथोलिक हैं। इस्लाम धर्म को मानने वालों की संख्या यहां 3.7'  के करीब है। शेष 28.3' किसी भी धर्म से असंबद्घ अथवा अन्य हैं।
जातीय समूह : जर्मन 91.5', तुर्की 2.4', इतालवी 0.7', ग्रीक 0.4', पोलिश 0.4', अन्य 4.6'
भाषा - जर्मनी के अधिकतर लोग जर्मन भाषा का ही बातचीत में प्रयोग करते हैं। यही यहां की प्रमुख भाषा है। कुछ प्रदेशों में दूसरी भाषाएं भी बोली जाती हैं, लेकिन इनके बोलने वालों की संख्या अधिक नहीं है।
स्पोट्र्स - जर्मनी का प्रमुख स्पोट्र्स फुटबाल है। यह देश कई बार फुटबाल विश्वकप का विजेता भी रह चुका है। इसके अलावा स्वीमिंग, हॉकी, हैंडबॉल, बास्केटबॉल, आईस हॉकी और टेनिस भी वहां काफी लोकप्रिय हैं। इधर दो दशकों से जर्मनी के लोगों का रुझान हॉकी की तरफ तेजी से बढ़ा है। उसने हॉकी विश्वकप में भी कई बार सराहनीय प्रदर्शन किया है एवं इसमें शीर्ष स्थान भी हासिल किया है। इस हॉकी विश्वकप फाइनल में जर्मनी को हराकर यह खिताब ऑस्ट्रेलिया ने अपने नाम कर लिया है।
शिक्षा - जर्मनी में उच्चशिक्षा सुधार कार्यक्रम सन 1960 से काफी तेजी से चलाए गए। इन कार्यक्रमों की बदौलत ही आज यह देश उच्च साक्षरता दर वाले देशों की सूची में शामिल हो सका है। एआरडब्ल्यूयू की सन 2008 की रैंकिंग में श्रेष्ठ 100 में यहां के 6 एवं 200 में 18 विश्वविद्यालयों को शामिल किया गया है।

चीन

चीन

चीन विश्व की प्राचीनतम सभ्यताओं में से एक है जो एशियाई महाद्वीप के पूर्व में स्थित है। वहां की लिखित भाषा प्रणाली सर्वाधिक प्राचीनतम मानी जाती है। चीन शब्द 'चिनÓ से निकला है जो मार्को पोलो द्वारा पश्चिम में प्रचारित किया गया था।
विशेष तथ्य

 

राजधनी बीजिंग
सबसे बड़ा शहर  
प्रमुख भाषा

मानक चीनी

(मंदारिन/प्युटॉनघुआ)

सरकार एक दलीय व्यवस्था
इंटरनेट टीएलडी .cn
दूरभाष कोड +86

भारत के साथ सम्बन्ध

आर्थिक महाशक्ति बन चुका चीन व्यापारिक क्षेत्र में भारत का प्रमुख प्रतिद्वंदी है। भारत के साथ उसका सीमा विवाद भी है। यूरोपीय देशों एवं अमेरिका से भारत की नजदीकी चीन को सुहा नहीं रही है इसलिय वह भारत के खिलाफ पाकिस्तान को मजबूत करने का काम कर रहा है। 

कुल क्षेत्रफल :  9,596,961 वर्ग किमी., भू-क्षेत्रफल :  9,569,901 वर्ग किमी., जलीय क्षेत्रफल : 27,060 वर्ग किमी., स्थल सीमा रेखा : 22,117 किमी., समुद्री तट रेखा : 14,500 किमी.

जनसंख्या : 1,330,141,295 (2010 अनु.); जनसंख्या आयु वर्ग : 0-14 वर्ष 19.8', 15-64 वर्ष 72.1', 65 वर्ष से अधिक 8.1', जनसंख्या वृद्घि दर : 0.49' (2010 अनु.),

जन्म दर : 12.17/1000, मृत्यु दर : 6.89/1000, आयु प्रत्याशा : 74.51 वर्ष (2010 अनु.), पुरुष 72.54 वर्ष, महिला 76.77 वर्ष, लिंगानुपात : 1.17 पुरुष/महिला, शिशु

मृत्यु दर : 16.51/1000, नगरीकरण : कुल जनसंख्या का 43'

प्रमुख शहर : शंघाई, तियानजिन, बुहान, शेनयांग, गुआंगझाऊ, बीजिंग.

भौगोलिक संरचना

देश का अधिकांश हिस्सा पहाड़ी है। इसकी मुख्य पर्वत शृंखलाएं तिएन शान, कुनलुन शृंखला व ट्रांस-हिमालय। तिब्बत दक्षिण-पश्चिम में स्थित है जिसे 1950 में चीन ने मिलाया था।
गोबी मरूस्थल देश के उत्तरी भाग में स्थित है। चीन की मुख्य भूमि तीन नदी प्रणालियों येलो नदी (हुआंग हो - 2,109 मील), यांग्त्जे नदीं (2,432 मील) और झू जियांग नदी (843 मील) से निॢमत है।

राजनीतिक संरचना
राष्टरीय पीपुल्स कांग्रेस में 2962 प्रतिनिधि होते हैं, जो कि प्रांतों की पीपुल्स कांग्रेस तथा सेना द्वारा पाँच वर्ष के लिये चुने जाते हैं। कांग्रेस स्थायी समिति, राष्टï्रपति, प्रधानमंत्री तथा मंत्रिमण्डल को निर्वाचित करती है। कांग्रेस हांगकांग का प्रतिनिधित्व नहीं करती है। हांगकांग का अपना अलग प्रशासन तथा लोकसभा है।

इतिहास

चीन में सर्वप्रथम मानव बस्तियों के प्रमाण 5000 ई.पू. के आसपास पाए जाते हैं। इन बस्तियों के अवशेष हुआंग हे बेसिन में पाए गए हैं। शांग वंश (1500-1000 ई.पू.) के शासनकाल में चीनी संस्कृति का विकास हुआ। चाऊ वंश (1122-249 ई.पू.) के शासनकाल के दौरान लाओ त्से, कन्फ्यूशियस, मो ती और मेन्सियस जैसे विचारकों ने चीनी दार्शनिक चिंतन को ऊँची भावभूमि पर पहुँचाया।

सम्राट चिन शिह हुआंग ती (246 - 210 ई.पू.) ने अपने शासनकाल के दौरान सामंतों की ताकत को दबाकर चीन को एकता के सूत्र में बांधा और विदेशी आक्रमण से रक्षा के लिए 'चीन की दीवार' (Great Wall of China) का निर्माण कराया।

तांग वंश (618 - 907 ई.) के शासनकाल को चीनी इतिहास का स्वर्ण युग कहते हैं। चित्रकारी, स्थापत्य कला और कविता का विकास हुआ और इसी दौरान 'वुडब्लॉकÓ प्रिंटिंग की भी शुरुआत हुई। इससे वृहद् स्तर पर छपाई का काम प्रारम्भ हुआ। मंगोलों ने भी यहाँ शासन किया। कुबलई खान मंगोलों का प्रसिद्ध राजा था।

काफी लम्बे अर्से तक चीन ने दुनिया से अपने-आप को अलग रखा और विदेशी गतिविधियों पर कड़ी रोक लगाई। किंतु 1839-1842 के एंग्लो-चीनी युद्ध के बाद स्थिति में परिवर्तन आया और विदेशी औपनिवेशक ताकतों का देश में हस्तक्षेप बढ़ गया। युद्ध के पश्चात् चीन के कई बंदरगाह विदेशी व्यापार के लिए खोल दिए गए और हाँगकाँग ब्रिटिश उपनिवेश हो गया। 1856 - 60 के युद्ध के पश्चात् चीनी सम्प्रभुता का हनन हुआ और पश्चिमी नागरिकों को चीनी कानून में काफी छूट दी गई। 1894 के चीनी-जापानी युद्ध का यूरोपीय ताकतों ने भरपूर फायदा उठाया और उन्हें चीन में व्यापार के लिए कई नाजायज फायदे प्रदान किए गए। इसके विरोध में बॉक्सर विद्रोह हुआ जिसे यूरोपीय ताकतों ने कुचल दिया।

1911 में डॉ. सन यत-सेन के नेतृत्व में राष्टरवादियों ने राजशाही के खिलाफ विरोध करके सत्ता पर कब्जा कर लिया और अंतरिम चीनी गणराज्य की स्थापना की। डॉ. सन गणराज्य के प्रथम राष्टरपति बने। इसके पश्चात् देश में अशांति का माहौल रहा। जल्दी ही जनरल चियांग काई-शेक ने कम्युनिस्टों की मदद से अधिकांश चीन पर कब्जा कर लिया और 1928 में क्योमिंतांग की स्थापना की।

18 सितम्बर, 1931 को जापान ने चीन पर आक्रमण करके मंचूरिया पर कब्जा कर लिया। 1945 में चीन ने मित्र राष्टï्रों की सेना के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। इसी के साथ चीन में चियांग काई शेक की सेनाओं और माओ त्से तुंग के नेतृत्व में कम्युनिस्टों के मध्य गृहयुद्ध छिड़ गया। अमेरिका के समर्थन के बावजूद चियांग काई शेक की करारी पराजय हुई और माओत्से तुंग ने 1 अक्टूबर, 1949 को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की घोषणा कर दी। चियांग काई शेक ने फारमोसा (ताइवान) में अंतरिम सरकार की स्थापना की।

माओ त्से तुंग ने चीन में कम्युनिस्ट सरकार की स्थापना की। कम्युनिस्ट पार्टी की नीतियों की वजह से 1960 के दशक के दौरान चीन को भयानक सूखे का सामना करना पड़ा जिसमें 2 करोड़ लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा। 1965 में चीन ने तिब्बत को अपना स्वायत्त प्रांत घोषित कर दिया।

माओ की नाकाम आॢथक नीतियों की वजह से कम्युनिस्ट पार्टी के एक समूह ने उनका विरोध शुरु कर दिया जिसकी बागडोर डेंग जिआओपिंग के हाथ में थी। विरोध को दबाने के लिए माओ ने 'सांस्कृतिक क्रांतिÓ (Cultural Revolution) का नारा उछाला जिसके तहत तमाम स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए और युवकों के नेतृत्व में विचारधारा के स्तर पर उग्र 'रेड गाडर््स' की स्थापना की गई। सांस्कृतिक क्रांति के दौरान लाखों लोगों की मौत हुई। इससे माओ की स्थिति एक बार फिर से मजबूत हो गई।

जुलाई 1971 में एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत चीन और अमेरिका के मध्य रिश्तों में गर्माहट पैदा हो गई। इससे सोवियत संघ के साथ उसके रिश्ते और भी खराब हो गए। इसी दौरान चीन का संयुक्त राष्टï्र संघ में प्रवेश भी हुआ।

8 जनवरी, 1976 को माओ त्से तुंग की मृत्यु हो गई। हुआ गुओफेंग उनके उत्तराधिकारी बने। 1 जनवरी, 1979 को बीजिंग और वाशिंगटन के मध्य पूर्ण राजनयिक सम्बन्ध स्थापित हो गए।

1981 में डेंग जिआओपिंग चीन के सर्वोच्च नेता बन गए। डेंग के नेतृत्व में 1980 के दशक के दौरान युगांतकारी आॢथक सुधार लागू किए गए। कम्युनिस्ट पार्टी ने सुधारवादी रवैया अपनाया और पश्चिमी तकनीक और प्रबंधन कौशल पर जोर दिया। 1989 में थ्येनमान चौक में हजारों प्रदर्शनकारियों की मौत ने चीन की छवि को गहरा धक्का पहुँचाया। 1993 में जियांग जेमिन कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष चुने गए। यह वह दौर था जब चीनी अर्थव्यवस्था का ग्राफ ऊँचा उठना शुरु हो चुका था।

फरवरी 1997 में डेंग जिआओपिंग की मृत्यु के बाद पार्टी पर युवा नेताओं की पकड़ मजबूत हो गई। 1998 में प्रधानमंत्री झू रोंगजी ने राज्य संचालित कंपनियों के निजीकरण के लिए आॢथक उदारीकरण की नीति लागू की। 1 जुलाई, 1997 को ब्रिटेन ने हाँगकाँग चीन को वापस कर दिया। 1999 में पुर्तगाल ने भी मकाओ चीन को वापस कर दिया। नवम्बर 2001 में चीन को विश्व व्यापार संगठन में प्रवेश दे दिया गया।

नवम्बर 2002 में कम्युनिस्ट पार्टी की 16वीं कांग्रेस में उपराष्टï्रपति हू जिनताओ को पार्टी का महासचिव चुना गया। किंतु जियांग जेमिन ने सेना प्रमुख रहने के साथ-साथ कई महत्वपूर्ण पदों को अपने पास रखा। मार्च 2003 में हू जिनताओं ने राष्टï्रपति का पद ग्रहण किया। 24 सितम्बर 2004 को पूर्व राष्टï्रपति जियांग जेमिन ने सेना प्रमुख का पद भी छोड़ दिया, जिससे हू जिनताओ चीन के निॢववाद नेता हो गए।

आर्थिक

चीन के अर्थव्यवस्था विश्व की सर्वाधिक तेजी से आगे बढऩे वाली अर्थव्यवस्था है। इसकी औसत विकास दर पिछले 30 वर्षों में 10' के करीब रही है। यह विश्व का दूसरा सबसे बड़ा व्यापारिक राष्टर है।

आॢथक आंकड़े

सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति) : 7.8 खरब डॉलर (2008 अनु.), सकल घरेलू उत्पादन (आधिकारिक विनिमय दर) : 4.22 अरब डॉलर (2008 अनु.), जीडीपी वास्तविक वृद्धि दर : 9.8', सकल घरेलू उत्पाद प्रति व्यक्ति (क्रय शक्ति) : 6,000 डॉलर, क्षेत्रवार सकल घरेलू उत्पाद : कृषि 10.6', उद्योग 49.2', सेवाएं 40.2' (2008 अनु.), श्रमशक्ति : 80.77 करोड़, क्षेत्रवार श्रमशक्ति : कृषि 43', उद्योग 25', सेवा क्षेत्र 32' (2006 अनु.), बेरोजगारी दर : 4', बजट : 868.6 अरब डॉलर (2008 अनु.), खर्च : 850.5 अरब डॉलर, सार्वजनिक ऋण : सकल घरेलू उत्पाद का 15.7', मुद्रास्फीति: 4.8'; बेरोजगारी: 4'; कृषि योग्य भूमि: 15'; मुद्रास्फीति (उपभोक्ता मूल्य पर) : 6', कृषि: चावल,गेहूँ, आलू, मक्का, मूँगफली, चाय,जौ, सेब, कपास, तिलहन; उद्योग : खनन व अयस्क प्रसंस्करण, लोहा, इस्पात, अल्युमिनियम व अन्य धातु, कोयला, मशीन निर्माण, हथियार, टेक्सटाइल, पेट्रोलियम, सीमेंट, रसायन, खाद, उपभोक्ता वस्तुएं (फुटवियर, खिलौने व इलेक्ट्रॉनिक्स), खाद्य प्रसंस्करण, ऑटोमोबाइल, रेल कार, जहाज व वायुयान, दूरसंचार उपकरण, व्यावसायिक अंतरिक्ष प्रक्षेपण यान, उपग्रह; प्राकृतिक संसाधन: कोयला, लौह अयस्क, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, मरकरी, टिन, टंगस्टन, एंटीमनी, मैंगनीज, मॉलीब्डेनम, वेनेडियम, मैग्नेटाइट, अल्युमिनियम, लेड, जस्ता, यूरेनियम, पनबिजली (विश्व में सर्वाधिक); औद्योगिक उत्पादन वृद्घि दर : 10.7'  (2008 अनु.), विद्युत उत्पादन : 3.256 खरब किलो वाट घंटा (2007 अनु.), कच्चा तेल उत्पादन : 37.25 लाख बीबीएल/दिन (2008 अनु.), प्राकृतिक गैस उत्पादन : 69.27 अरब घन मीटर (2007 अनु.), निर्यात : 1.465 खरब डॉलर (2008 अनु.); निर्यात सामग्री : मशीनरी और उपकरण, तेल व खनिज ईंधन, प्लास्टिक, प्रकाशिक और मेडिकल उपकरण, कार्बनिक रसायन, लोहा व इस्पात; प्रमुख साझेदार : सं.रा. अमेरिका 19.1', हांगकांग 15.1', जापान 8.4', दक्षिण कोरिया 4.6' (2007), आयात: 1.156 अरब डॉलर (2008 अनु.); आयात सामग्री : मशीनरी व उपकरण, कच्चा तेल और खनिज ईंधन, प्लास्टिक, ऑप्टिकल व मेडिकल उपकरण, कार्बनिक रसायन, इस्पात व लोहा; प्रमुख साझेदार: जापान 14', दक्षिण कोरिया 10.9', ताइवान 10.5', सं.रा.अमेरिका 7.3' (2007)
संचार : टेलीफोन : लैंडलाइन: 36.54 करोड़ (2007); मोबाइल सेल्युलर: 54.72 करोड़ (2007); रेडियो ब्रॉडकास्ट स्टेशन: ए एम 369, एफ एम 259, शॉर्टवेव 45 (1998); टेलीविजन ब्रॉडकास्ट स्टेशन: 3,240 (1997); इंटरनेट प्रयोगकर्ता: 25.3 करोड़ (2008).
परिवहन : रेलवे - कुल: 75,438 किमी., राजमार्ग - कुल: 1,930,544 किमी.(2005); जलमार्ग: 110,000 किमी. (2008); बंदरगाह : डेलियन, गुआंगझाऊ, नानजिंग, निंगबो, किंगदाओ, शंघाई; वायुपत्तन: 477 (2008), मर्चेंट नेबी : कुल 1,826 जहाज।
धर्म : नास्तिक, दाओवाद, बौद्ध, ईसाई 3-4', मुस्लिम 1-2'.
जातीय समूह : हान चीनी 92, झुआंग, युगार, हुई, तिब्बती, मिआओ, मांचू, मंगोल, बुई, कोरियाई व अन्य 8'.
भाषाएं : मानक चीनी (मंदारिन/प्युटॉनघुआ), वाईए (कैंटनी), वू, मिनबेई, मिन्नान, जि़यांग, गान, हक्का लोकभाषा।
खेल : स्पोट्र्स के मामले में भी चीन अपने आप को एक शक्ति के रूप में स्थापित कर चुका है। हाल ही में आयोजित ओलंपिक और एशियाड में उसका प्रदर्शन इस बात की गवाही है। कई इतिहासकारों का मानना है कि फुटबाल खेल की शुरुआत लगभग एक हजार ईसा पूर्व चीन में ही हुई थी। टेबल टेनिस, बैटमिंटन, गोल्फ, बास्केटबाल, जूडो, स्वीमिंग आदि यहां के प्रमुख खेल हैं।
शिक्षा : 91' (2009 अनुमानित)

रूस (रसियन फेडरेशन)

रूस (रसियन फेडरेशन)

क्षेत्रफल के आधार पर विश्व का सबसे बड़ा देश रूस आज एक बार फिर से बड़ी महाशक्ति बन चुका है।
विशेष तथ्य

 

राजधानी मास्को
सबसे बड़ा शहर मास्को
प्रमुख भाषा रशियन
सरकार संघीय सरकार
इंटरनेट टीएलडी .ru
दूरभाष कोड +7

भारत के साथ सम्बन्ध

रूस का शक्तिशाली होना भारत के हित में है क्योंकि यह वह देश है जिसने अधिकतर अंतर्राष्ट्रीय मामलों में भारत का ही पक्ष लिया है। दिसंबर 2010 में अपनी भारत यात्रा के दौरान राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने यूएन सुरक्षा परिषद की स्थाई सदस्यता के भारतीय दावे पर अपनी पूर्ण सहमति जताई है।

 

कुल क्षेत्रफल : 17,098,242 वर्ग किमी.; भू क्षेत्रफल : 16,377,742 वर्ग किमी., जलीय क्षेत्रफल : 720,500 वर्ग किमी., स्थल सीमा रेखा : 20,241.5 किमी., समुद्र तट रेखा : 37,653 किमी.;

जनसंख्या : 139,390,205 (2010 अनु.), जनसंख्या आयु वर्ग : 0-14 वर्ष 14.8', 15-64 वर्ष 71.5', 65 वर्ष से अधिक 13.7';  वृद्घिदर : -0.465', जन्म दर : 11.11/ 1000 (2010 अनु.), मृत्यु दर : 16.04/1000; आयु प्रत्याशा : 66.16 वर्ष; पुरुष 59.54 वर्ष, महिला 73.17 वर्ष, लिंगानुपात : 1.06 पुरुष/महिला, शिशु मृत्यु दर : 10.32/1000, नगरीकरण : कुल जनसंख्या का 73' ( 2008 अनु.).

प्रमुख शहर : मास्को, सेंट पीटर्सबर्ग, नोवोसिबिस्र्क, निझनी नोवगोरोद, येकातेरिनबर्ग , समारा, कज़ान, उफा, चेलयाबिंस्क, पेम, वोल्गोग्राद.

भौगोलिक संरचना

क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा देश रूस, यूरोप एवं एशिया महाद्वीप के बीच में है। इसका विस्तार बाल्टिक सागर से प्रशांत महासागर तक है। सोवियत संघ के विखंडन के बाद 1991 में यह स्वतंत्र देश बना। रूस में पूर्व सोवियत संघ का 75 प्रतिशत क्षेत्रफल और 50 प्रतिशत जनसंख्या है।

राजनीतिक संरचना

इस संघीय गणराज्य में राष्टरपति का चुनाव वयस्क मताधिकार से होता है। राष्टरपति प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद की नियुक्ति करता है। संसद में उच्च सदन एवं निम्र सदन होते हैं। उच्च सदन को संघीय परिषद कहते हैं। निम्र सदन में चार सौ पचास सदस्य होते हैं। जिसमें से दो सौ पच्चीस सदस्य चुनाव क्षेत्रों से निर्वाचित होते हैं।

इतिहास

मान्यताओं के अनुसार वाइकिंग रूरिक 862 में रूस आया और उसने नोवगोरोद में प्रथम रूसी राजवंश की आधारशिला रखी। 10वीं व 11वीं शताब्दियों में ईसाईयत ने विभिन्न जनजातियों के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। सन् 1204 में मंगोलों ने रूस पर आक्रमण किया जिससे रूस छोटे-छोटे राज्यों में विभाजित हो गया।

15वीं शताब्दी के उत्तराद्र्ध में ड्यूक इवान तृतीय ने नोवगोरोद और त्वेर पर अधिकार जमाकर मंगोलों को सत्ता से हटा दिया। प्रथम ज़ार इवान चतुर्थ 'द टैरिबल' (1533-1584 ई.) ने रूसी राज्य की आधारशिला रखी। किंतु वास्तविक रूप से पीटर द ग्रेट (1689-1725) को ही आधुनिक रूस का निर्माता माना जाता है। उसने रूस में पश्चिमीकरण (Westernization) की नीति लागू की। ज़ारीना कैथेरीन द ग्रेट (1762-1796 ई.) ने पीटर की पश्चिमीकरण नीति को जारी रखा और क्रीमिया, यूक्रेन और पोलैण्ड के कुछ हिस्से को रूस में मिला लिया। अलेक्जेंडर प्रथम (1801-1825) के शासनकाल के दौरान रूस ने नेपोलियन को बुरी तरह परास्त किया और फिनलैंड व बेस्सअरेबिया को रूस में मिला लिया।

ज़ार निकोलस द्वितीय (1894-1917) के शासनकाल में रूस की जापान के हाथों बुरी तरह पराजय हुई।

प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान ज़ार निकोलस द्वितीय के भ्रष्टï व अकर्मण्य प्रशासन की पोल खुल गई। गरीबी और बदहाली ने आम जनता में असंतोष भर दिया। रूस में कम्युनिस्ट विचारधारा के पैर पहले ही मजबूत हो चुके थे। 15 मार्च, 1917 को रूसी क्रांति का बिगुल बजा और ज़ार निकोलस द्वितीय को गद्दी छोडऩी पड़ी। उदारवादी मेंसेविक पार्टी के अलेक्जेंडर केरेंस्की देश के प्रधानमंत्री बने। किंतु जल्दी ही कम्युनिस्ट बोल्शेविकों ने व्लादीमिर लेनिन के नेतृत्व में तख्ता पलट करके सत्ता पर कब्जा कर लिया। 7 नवम्बर, 1917 को लेनिन रूस के नए प्रधानमंत्री बने।

सोवियत संघ का उद्भव

30 दिसम्बर, 1922 को सोवियत गणराज्य की स्थापना हुई। 21 जनवरी, 1924 को लेनिन की मृत्यु से पार्टी में सत्ता संघर्ष तेज हो गया। पार्टी के जनरल सेक्रेटरी जोसेफ स्टालिन ने रेड आर्मी के मुखिया ल्यॉन ट्रॉट्स्की को दरकिनार करके सत्ता पर कब्जा कर लिया। ट्रॉट्स्की को 1929 में देश से निष्कासित कर दिया गया। बाद में मैक्सिको सिटी में उसकी हत्या कर दी गई। स्टालिन ने अपने विरोधियों की हत्या का रास्ता अपनाकर सत्ता पर अपनी पकड़ मजबूत की। स्टालिन ने करोड़ो लोगों को साइबेरिया के यातना शिविरों में भेजा। सोवियत इतिहासकार रॉय मेडवेडेव के एक अनुमान के अनुसार लगभग 2 करोड़ लोगों की स्टालिन के यातना शिविरों में मृत्यु हुई।

स्टालिन ने आरंभ में नाज़ी जर्मनी के प्रति दोस्ताना रवैया अपनाया और 1939 में उसके साथ अनाक्रमण संधि की। 1940 में स्टालिन ने इस्टोनिया, लाटविया व लिथुआनिया पर अधिकार जमा लिया। किंतु जर्मनी ने 22 जून, 1941 को अचानक सोवियत संघ पर आक्रमण कर दिया। द्वितीय विश्वयुद्ध का सबसे भीषण युद्ध सोवियत संघ में ही लड़ा गया। जर्मनी के खिलाफ युद्ध में करोड़ों सोवियतवासियों को जान गंवानी पड़ी। युद्ध में जर्मनी को करारी हार का मुँह देखना पड़ा। हिटलर के लिए सोवियत संघ पर आक्रमण दु:स्वप्न साबित हुआ। इसके बाद उसकी शक्ति का तेजी से पराभव हुआ।

द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति पर जर्मनी को सोवितय संघ व अमेरिका और उसके समर्थक राष्टï्रों ने आपस में विभाजित कर लिया। यहीं से सोवियत संघ व अमेरिका के मध्य शीतयुद्ध की शुरुआत हुई। 6 मार्च, 1953 को स्टालिन की मृत्यु हो गई।

स्टालिन का स्थान निकिता ख्रुश्चेव (1958-1964) ने लिया। अमेरिकी नेतृत्व वाले सैन्य संगटन नाटो का मुकाबला करने के लिए सोवियत संघ ने पूर्वी यूरोपीय देशों के साथ मिलकर सैन्य संगठन 'वारसा संधि' की स्थापना की। ख्रुश्चेव के कार्यकाल के ही दौरान सोवियत संघ ने हाइड्रोजन बम का विस्फोट किया (1953), अंतरद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया (1957), प्रथम मानव निॢमत कृत्रिम उपग्रह 'स्पुतनिक प्रथम' को अंतरिक्ष में भेजा (1961)। 15 अक्टूबर, 1964 को ख्रुश्चेव की सत्ता का पतन हो गया। लियोनिद ब्रेझेनेव ने उनका स्थान लिया।

18 जुलाई, 1979 को अमेरिकी राष्टरपति जिम्मी कार्टर और ब्रेझनेव ने वियाना में साल्ट II संधि पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत अंतरद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों की संख्या को सीमित किया गया। 27 दिसम्बर, 1979 को सोवियत सेनाओं ने अफगानिस्तान में प्रवेश किया। 10 नवम्बर, 1982 को लियोनिद ब्रेझनेव की मृत्यु हो गई। उनका स्थान यूरी आंद्रोपोव ने लिया, लेकिन जल्दी ही उनकी मृत्यु हो गई। उनका उत्तराधिकारी काँस्टेन्टाइन चेरनेन्को को बनाया गया, लेकिन उनकी भी जल्दी ही मृत्यु हो गई। उनका स्थान मिखाइल गोर्बाचोव ने लिया। उन्होंने न केवल राष्टरपति का पद संभाला बल्कि उन्हें कम्युनिस्ट पार्टी का महासचिव भी बनाया गया।

गोर्बाचोव ने उदारवादी नीति अपनाते हुए आर्थिक उदारीकरण व राजनीतिक स्वतंत्रता की नीतियाँ 'ग्लास्नोस्त' व 'पेरेस्त्रोइका' लागू कीं। उन्होंने पश्चिमी देशों के साथ सम्बन्ध सुधारे, अफगानिस्तान से सोवियत सेनाएं वापस बुलाईं और जर्मनी के एकीकरण का समर्थन किया। उनके इन कदमों से अमेरिका व सोवियत संघ के मध्य शीतयुद्ध की समाप्ति हो गई।

सोवियत संघ का विखंडन

गोर्बाचोव की उदारवादी नीतियों से सोवियत संघ में वर्षों से दबी राजनीतिक विरोध की चिंगारी भड़क उठी। विरोधी और भी बड़े सुधारों की मांग करने लगे। विभिन्न गणराज्यों में स्वतंत्रता की माँग उठने लगी। गोर्बाचोव ने कम्युनिस्ट पार्टी को भंग कर दिया। जल्दी ही सोवियत संघ 15 स्वतंत्र गणराज्यों में विखंडित हो गया। 25 दिसम्बर, 1991 को गोर्बाचोव ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया और बोरिस येल्तसिन नवस्थापित रूसी संघ के प्रथम राष्टरपति बने।

संयुक्त राष्टर सुरक्षा परिषद में सोवियत संघ का स्थान रूस ने लिया। सोवियत संघ के अचानक विखंडन से रूस में गरीबी व बदहाली का माहौल फैल गया। बोरिस येल्तसिन की कार्यशैली तानाशाही प्रवृत्ति की थी। उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान कई प्रधानमंत्रियों को नियुक्त व बर्खास्त किया। 9 अगस्त, 1999 को येल्तसिन ने व्लादीमिर पुतिन को प्रधानमंत्री पद पर नियुक्त किया।

31 दिसम्बर, 1999 को अचानक बोरिस येल्तसिन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया, जिससे व्लादीमिर पुतिन देश के कार्यवाहक राष्टï्रपति बन गए। फरवरी, 2000 में लम्बी लड़ाई के बाद रूसी सेनाओं ने चेचेन विद्रोहियों को परास्त करते हुए राजधानी ग्रोज्नी पर अधिकार कर लिया। पुतिन के इस कदम से उनकी लोकप्रियता में भारी इजाफा हुआ। 26 मार्च, 2000 को पुतिन ने राष्टरपति चुनाव जीत लिया। इसके पश्चात् उन्होंने सत्ता का केंद्रीकरण शुरु किया और प्रांतीय गर्वनरों और व्यावसायिक घरानों की बढ़ती ताकत पर अंकुश लगाया। यद्यपि आॢथक दृष्टिïकोण से रूस ने पुतिन के काल में कोई विशेष तरक्की नहीं की, किंतु उन्होंने सोवियत विखंडन के बाद रूस को पहली बार राजनीतिक स्थिरता का माहौल प्रदान किया। इसी वजह से पुतिन मार्च 2004 में रूस के राष्ट्रपति पुनॢनर्वाचित हुए। यद्यपि पर्यवेक्षकों ने चुनाव के तरीके पर अंगुलियाँ भी उठाईं।
साक्षरता दर : 100' (2003 अनु.)

आॢथक आंकड़े

सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति) : 2.11 खरब डॉलर (2009 अनु.); सकल घरेलू उत्पाद (आधिकारिक विनिमय दर) : 1.255 खरब डॉलर, जीडीपी (वास्तविक वृद्घि दर) : -7.9', सकल घरेलू उत्पाद  (प्रति व्यक्ति क्रय शक्ति) : 15,100 डॉलर (2009 अनु.),  क्षेत्रवार सकल घरेलू उत्पाद : कृषि 4.7', उद्योग 34.8', सेवाएं 60.5'; श्रम शक्ति : 7.58 करोड़; कृषि : खाद्यान्न, चुकंदर, सूरजमुखी बीज, सब्जियाँ, फल, गोमांस, दूध; श्रमशक्ति : 7.51 करोड़; क्षेत्रवार श्रमशक्ति : कृषि 10', उद्योग 31.9', सेवाएं 58.1' (2008); बेरोजगारी दर : 8.4' (2009 अनु.), गरीबी रेखा के नीचे जनसंख्या : 15.8', बजट : 231.6 अरब डॉलर, खर्च : 303.6 अरब डॉलर (2009 अनु.), सार्वजनिक ऋण : जीडीपी का 6.3' (2009 अनु.), मुद्रास्फीति (उपभोक्ता मूल्य पर) : 11.7' (2009 अनु.), उद्योग : खनन, कोयला, कच्चे तेल, गैस, रसायन व धातुओं का खनन; रोलिंग मिलों से लेकर एयरक्राफ्ट व अंतरिक्षयानों का निर्माण, रक्षा उपकरण उत्पादन; इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, जहाज निर्माण, सड़क व रेल परिवहन उपकरण, कृषीय मशीनरी, विद्युत उत्पादन व सम्प्रेषण उपकरण, मेडिकल व वैज्ञानिक उपकरण, उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं, टेक्सटाइल, हथकरघा; प्राकृतिक संसाधन : पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, कोयला, विरल खनिज, टिम्बर; औद्योगिक उत्पादन वृद्घिदर : -11.9' (2009 अनु.), विद्युत उत्पादन : 1.04 खरब किलोवाट प्रति घंटा, कच्चा तेल उत्पादन : 0.993 करोड़ बीबीएल प्रतिदिन, प्राकृतिक गैस उत्पादन : 546.8 अरब घन मीटर (2009 अनु.), निर्यात : 303 अरब डॉलर (2009 अनु.); निर्यात सामग्रियां : पेट्रोलियम व पेट्रोलियम उत्पाद, प्राकृतिक गैस, लकड़ी व लकड़ी के उत्पाद, धातुएं, रसायन व सैन्य सामग्री; प्रमुख साझेदार : नीदरलैंड 10.62', इटली 6.46', जर्मनी 6.24', चीन 5.69', तुर्की 4.3', युके्रन 4.01' (2009), आयात : 191.8 अरब डॉलर (2009 अनु.); आयात सामग्री : मशीनरी व उपकरण, उपभोक्ता वस्तुएं, दवाएं, मांस, शक्कर, आयरन और स्टील, फल और सूखे मेवे; मुख्य साझेदार : जर्मनी 14.39', चीन 13.98, युके्रन 5.48', इटली 4.84', अमेरिका 4.46' (2009)।
संचार : टेलीफोन: लैंडलाइन 4.01 करोड़ (2005); सेल्युलर मोबाइल : 15 करोड़ (2006); रेडियो ब्रॉडकास्ट स्टेशन : एएम 323, एफ एम 1500, शॉर्टवेव 62 (1998); रेडियो : 6.15 करोड़ (1997); टेलीविजन ब्रॉडकास्ट स्टेशन : 7,306 (1998); टेलीविजन : 6.05 करोड़ (1997); इंटरनेट सर्विस प्रदाता : 300 (जून 2000); इंटरनेट प्रयोगकर्ता : 2.5 करोड़ (2006).

परिवहन : रेलवे : कुल 87,157 किमी (2002); राजमार्ग : कुल 871,000 किमी; जलमार्ग : 102,000 किमी (2002); हवाई अड्डïे : 1260 (2007).

धर्म : रूसी आर्थोडॉक्स 15-20', अन्य ईसाई समूह 2', इस्लाम 10-15' (2006 अनु.)

जातीय समूह : रूसी 79.8', तातर 3.8', यूक्रेनी 2', बशकिर 1.2', चुवाश 1.1', अन्य व उल्लेख नहीं 12.1' (2002)

शिक्षा : यहां के 99.4' नागरिक साक्षर हैं। इस देश की पुरुष साक्षरत दर 99.7' है वहीं साक्षरता के मामले में महिलाओं का प्रतिशत 99.2 है।

संयुक्त राज्य अमेरिका

संयुक्त राज्य अमेरिका

संयुक्त राज्य अमेरिका उत्तर अमेरिकी महाद्वीप में स्थिति एक संघीय गणतंत्र है। जनसंख्या और क्षेत्रफल दोनों के मामले में इसका विश्व में तीसरा स्थान है। संयुक्त राज्य अमेरिका का नाम सबसे पहले थॉमस पैन ने सुझाया था। 4 जुलाई सन 1776 के स्वतंत्रता घोषणा पत्र में इसका आधिकारिक रूप से प्रयोग किया गया।

विशेष तथ्य

 

 राजधानी  वाशिंगटन डी सी
 सबसे बड़ा शहर  न्यूयार्क सिटी
 प्रमुख भाषा  अंग्रेजी
 सरकार  संघीय लोकतंत्र
 इंटरनेट टीएलडी  .us
 दूरभाष कोड  +1
 

भारत के साथ संबन्ध

बराक ओबामा के सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने देश के लोगों के लिए रोजगारों की व्यवस्था करना है। भारत के साथ अच्छे संबंधों से यह काम संभव है। साल के अंत में ओबामा की भारत यात्रा के दौरान यह बात खुलकर सामने आई है। आज अमेरिका कई महत्वपूर्ण मामलों में भारत का साथ दे रहा है लेकिन यूएन सुरक्षा परिषद की स्थाई सदस्यता पर उसका रुख गोलमोल है।

कुल क्षेत्रफल : 9,826,675 वर्ग किमी.; भू-क्षेत्रफल: 9,161,966 वर्ग किमी., जलीय क्षेत्रफल: 664,709 वर्ग किमी., स्थल सीमा रेखा : 12,034 किमी., समुद्री तट रेखा: 19,924 किमी.

जनसंख्या : 310,232,863 (2010 अनु.); जनसंख्या आयुवर्ग : 0-14 वर्ष 20.2', 15-64 वर्ष 67', 65 वर्ष से अधिक 12.8', वृद्धि दर : 0.97' (2010 अनु.); जन्म दर : 13.83/1000, मृत्यु दर : 8.38', आयु प्रत्याशा : 78.24 वर्ष, पुरुष 75.78 वर्ष, महिला 80.81, लिंगानुपात : 1.047 पुरुष / महिला, शिशु मृत्यु दर : 6.14/1000, नगरीकरण : कुल जनसंख्या का 82'.

प्रमुख शहर : अटलांटा, आस्टिन, बाल्टीमोर, बोस्टन, चार्लोट, सिनसिनाटी, क्लीवलैंड, कोलम्बस, डलास, डेनवेर, डेट्रॉट, ह्यूस्टन, इंडियानापोलिस, जैकसनविले, लास एंजिल्स, मेम्फिस, न्यूयॉर्क, फिल्डेल्फिया, फीनिक्स, सैन डिएगो, सैन फ्रांसिस्को, सैन जोसे।

राजनीतिक संरचना

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) के सौ सदस्यों का चुनाव जनता छ: वर्षों के लिए करती है। सीनेट में हर राज्य से दो सदस्यों का चयन होता है। निम्र सदन के चार सौ पैंतीस सदस्यों का चुनाव दो वर्षों के लिए किया जाता है। राष्ट्रपति तथा उपराष्ट्रपति का चयन चुनाव द्वारा होता है। संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रत्येक राज्य का अलग संविधान है। राज्यों की बागडोर गर्वनर के हाथों में होती है।

इतिहास : सन 1492 में क्रिस्टोफर कोलम्बस ने अमेरिकी महाद्वीप की खोज की। महाद्वीपीय सं.रा. अमेरिका पर कदम रखने वाला प्रथम यूरोपियन जुआन पाँसे डि ल्यॉन था जो 1513 में फ्लोरिडा पहुँचा।

पुरातत्ववेत्ताओं के अनुसार अमेरिका में प्रथम मानव का प्रवेश 50,000 से 11,000 वर्ष पूर्व एशिया में बेङ्क्षरग लैंड ब्रिज के द्वारा हुआ था। इन्हें ही रेड इंडियन कहते हैं।

औपनिवेशिक अमेरिका (1493-1776)

1607 में लंदन की वर्जीनिया कंपनी ने टेम्स नदी पर जेम्सटाउन सेटेलमेंट की स्थापना की। इसके बाद यूरोपीय देशों से लोगों का आना शुरू हो गया जिससे यहाँ के मूल निवासियों के साथ उनका टकराव भी होने लगा, अंत में प्रवासियों ने उन्हें यह स्थान छोडऩे के लिए मजबूर कर दिया।

अमेरिका की स्वतंत्रता (1776-1789)

ब्रिटिश नीतियों से अमेरिका के मूल नागरिक संतुष्ट नहीं थे। 1773 में बोस्टन टी पार्टी को अमेरिकी स्वतंत्रता की ओर पहला कदम माना जाता है। 4 जुलाई, 1776 को फिलडेल्फिया में सम्पन्न द्वितीय महाद्वीपीय काँग्रेस में ग्रेट ब्रिटेन से सं.रा. अमेरिका की स्वतंत्रता की घोषणा कर दी गई।

1781 में अमेरिका व फ्रांस की संयुक्त सेनाओं ने लार्ड कार्नवालिस के नेतृत्व वाली ब्रिटिश सेना को पराजित किया और इसके  साथ ही ब्रिटेन ने अमेरिका पर अपना दावा छोड़ दिया।

पश्चिमी दिशा में प्रसार (1789-1849)

इस अवधि में लुइसियाना खरीद, 1812 का युद्ध और मैक्सिकन युद्ध जैसी महत्वपूर्ण घटनाएं हुईं जिनकी वजह से संयुक्त राज्य अमेरिका के क्षेत्रफल में इजाफा हो गया।
1845 में सं.रा.अमेरिका का मैक्सिको के साथ युद्ध हुआ। इस युद्घ में अमेरिकी सेना ने मैक्सिको को बुरी तरह परास्त कर दिया।

गृहयुद्ध काल (1849-1865 ई.)

इस दौरान उत्तर व दक्षिण अमेरिका के श्वेत समुदायों के मध्य सरकार, अर्थव्यवस्था, समाज और दास-व्यवस्था को लेकर मतभेद उभर आए। उस समय के राष्टï्रपति अब्राहम लिंकन ने दास-व्यवस्था का विरोध किया। फलस्वरूप दक्षिण राज्यों ने अपने आप को स्वतंत्र घोषित कर दिया। गृहयुद्ध हुआ जिसमें लिंकन के नेतृत्व में उत्तरी राज्यों ने दक्षिणी राज्यों को पराजित कर दिया। इस गृहयुद्ध के परिणामस्वरूप ही राष्ट्रपति लिंकन की हत्या हुई थी।

पुनॢनर्माण और औद्योगिक समाज का उदय (1865-1940)

गृहयुद्ध खत्म होने के बाद अमेरिका का औद्योगिकीकरण शुरू हुआ। उत्तरी राज्यों में इसकी गति काफी तीव्र थी। इस अवधि में रेड इंडियन जनसंख्या तेजी से विस्थापित हुई और विभिन्न यूरोपीय देशों से आने वाले प्रवासियों की संख्या में भी इजाफा हुआ। यह वह दौर था जब अमेरिका की स्वीकृति वैश्विक स्तर पर एक आॢथक महाशक्ति के रूप में होने लगी थी। प्रथम विश्वयुद्ध में अमेरिका ने सक्रिय भागीदारी की। इस युद्ध की समाप्ति पर अमेरिका आथक और सैन्य महाशक्ति के रूप में उभरकर सामने आया।

द्वितीय विश्व युद्ध (1940-45)

द्वितीय विश्वयुद्घ के प्रारंभिक चरण में अमेरिका ने इसमें हिस्सा नहीं लिया था, लेकिन जब 7 दिसम्बर, 1941 को जापान ने पर्ल हार्बर पर हमला बोला तो उसे इस युद्ध में कूदना पड़ा। अमेरिका ने मित्र राष्ट्रों, ब्रिटेन, सोवियत संघ, फ्रांस आदि के साथ मिलकर इटली, जर्मनी व जापान की संयुक्त सेनाओं को पराजित करने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह किया था।

शीतयुद्ध काल (1945-1980)

द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद ब्रिटेन का विश्व महाशक्ति के रूप में पराभव हो गया। उसका स्थान सं.रा.अमेरिका व सोवियत संघ ने ले लिया। इन दोनों महाशक्तियों के बीच प्रभुत्व को लेकर संघर्ष शुरू हुआ। इसके कई कारण थे जिनमें प्रमुख थे, जर्मनी का विभाजन, कोरियाई युद्ध, क्यूबा मिसाइल संकट आदि  1960 व 70 के दशक के दौरान अमेरिका को वियतनाम युद्ध में भारी हार का सामना करना पड़ा।

पूर्ण प्रभुत्व का काल (1988-वर्तमान तक)

1991 में सोवियत संघ का विखंडन हो गया और सं.रा.अमेरिका विश्व की एकमात्र महाशक्ति बन गया। राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के कार्यकाल के दौरान डिजिटल क्रांति की वजह से अमेरिका ने उल्लेखनीय आथक प्रगति की।

11 सितम्बर, 2001 को इस्लामिक आतंकवादियों ने वल्र्ड ट्रेड सेंटर व पेंटागन पर हमला कर विश्व की एकमात्र महाशक्ति को बुरी तरह हिला दिया। इसके फलस्वरूप अमेरिकी गठबंधन ने ओसामा बिन लादेन को खोजने के लिए अफगानिस्तान पर हमला कर तालिबान सरकार का पतन किया। सन् 2003 में राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने सद्दाम हुसैन को अपदस्थ करने के लिए इराक पर हमला किया, जिससे सद्दाम की सत्ता का पतन हो गया। 2008 में अमेरिका आर्थिक मंदी की चपेट में आया और यहां के कई बैंक दिवालिया हो गए।

आर्थिक

संयुक्त राज्य अमेरिका मिश्रित अर्थव्यवस्था वाला देश है। इसने अपने प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करके खुद को आगे बढ़ाने का काम किया है। अमेरिका विश्व में प्रथम सर्वाधिक सामान का आयात करने वाला एवं तीसरा सर्वाधिक निर्यात करने वाला देश है।

सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति): 14.29 खरब डॉलर (2009 अनु.); सकल घरेलू उत्पाद (आधिकारिक विनिमय दर): 14.26 खरब डॉलर; जीडीपी वास्तविक वृद्धि दर:     -2.6' (2009 अनु.); सकल घरेलू उत्पाद प्रतिव्यक्ति (क्रय शक्ति) : 46,000 डॉलर (2009); क्षेत्रवार सकल घरेलू उत्पाद: कृषि 1.2', उद्योग 21.9', सेवाएं 76.9' (2009 अनु.); श्रमशक्ति: 15.42 करोड़ (2009); क्षेत्रवार श्रमशक्ति: कृषि 0.7', तकनीकी क्षेत्र 37.3', निर्माण क्षेत्र 20.3'; बेरोजगारी दर: 9.3 ' (2009 अनु.); गरीबी रेखा के नीचे जनसंख्या: 12' (2004 अनु.); बजट: 2.104 खरब डॉलर; खर्च: 3.52 खरब डॉलर (2009 अनु.); सार्वजनिक ऋण: सकल घरेलू उत्पाद का 52.9' (2009 अनु.); मुद्रास्फीति (उपभोक्ता मूल्य पर): -0.3 (2009 अनु.); कृषीय उत्पाद: गेहूँ, मक्का, अन्य कदन्न, फल, सब्जियाँ, कपास, गोमाँस, सुअर का माँस, पोल्ट्री, डेयरी उत्पाद, मछलियाँ, वन उत्पाद; उद्योग : पेट्रोलियम, स्टील, मोटर वाहन, एयरोस्पेस, दूरसंचार, रसायन, इलेक्ट्रॉनिक्स, खाद्य प्रसंस्करण, उपभोक्ता वस्तुएं, लम्बर, खनन; औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर: -5.5' (2009 अनु.); विद्युत उत्पादन: 4.11 खरब किलो वाट घंटे (2008); कच्चा तेल उत्पादन: 90.56 लाख बीबीएल/दिन (2009 अनु.); प्राकृतिक गैस उत्पादन: 593.4 अरब घन मी. (2009 अनु.); निर्यात: 1.047 खरब डॉलर (2009 अनु.); निर्यात सामग्रियाँ: कृषीय उत्पाद (सोयाबीन, फल, मक्का) 9.2', औद्योगिक सप्लाई (कार्बनिक रसायन) 26.8', पूँजीगत वस्तुएं (ट्रांजिस्टर, हवाई जहाज, मोटर वाहन, कलपुर्जे, कम्प्यूटर, दूरसंचार उपकरण) 49', उपभोक्ता वस्तुएं (ऑटोमोबाइल, मेडिसिन) 15' (2008); प्रमुख साझेदार : कनाडा 19.37', मैक्सिको 12.21', चीन 6.58', जापान 4.84', ग्रेट ब्रिटेन 4.33'  (2007), जर्मनी 4.1' (2009), आयात: 1.563 खरब डॉलर (2009 अनु.); आयात सामग्रियाँ: कृषीय उत्पाद 4.9', औद्योगिक सप्लाई 32.9' (कच्चा तेल 8.2'), पूँजीगत वस्तुएं 30.4' (कम्प्यूटर, दूरसंचार उपकरण, मोटरवाहन कलपुर्जे, ऑफिस मशीनें, इलेक्ट्रिक पॉवर मशीनरी), उपभोक्ता वस्तुएं 31.8' (ऑटोमोबाइल, कपड़े, दवाएं, फर्नीचर, खिलौने) (2008); प्रमुख साझेदार: चीन 19.3', कनाडा 14.24', मैक्सिको 11.12', जापान 6.14', जर्मनी 4.53' (2009)।

संचार : टेलीफोन (लैंडलाइन) 15 करोड़ (2008); मोबाइल सेल्युलर 27 करोड़ (2008); रेडियो ब्रॉडकास्ट स्टेशन एएम 4,789, एफ एम 8,961, शॉर्टवेव 19 (2006); टेलीविजन ब्रॉटकास्ट स्टेशन 2,218 (2006); इंटरनेट कम्पनियाँ 7,000 (2004); इंटरनेट प्रयोगकर्ता 23 करोड़ (2009);

परिवहन एयरपोर्ट 14,951 (2008); हेलीपोटस 146  (2007); रेलवे 226,612 किमी; सड़कें 6,465,799 किमी; जलमार्ग 41,009 किमी; मर्चेंट नेवी, कुल 422 जहाज(2009)।

धर्म अमेरिका में कई धर्मों को मानने वाले रहते हैं। सन 2002 में किए गए एक शोध के दौरान 59' अमेरिकन नागरिकों ने स्वीकार किया था कि यह उनके जीवन का अनिवार्य अंग है। सन 2007 के सर्वे के अनुसार वहां ईसाइयों की संख्या 78.4' है जो कि सन 1990 में 86.4' थी। इस समय अमेरिका में  प्रोटेस्टेंट 51.3' एवं रोमन कैथोलिक 23.9' हैं। 1.7' यहूदी, 0.7' बौद्घ, 0.6' मुस्लिम एवं 0.4' हिन्दू भी वहां हैं।

जातीय समूह अमेरिका श्वेत बहुल लोगों का देश है। इस समय तकरीबन 79.8' श्वेत, 12.8' नीग्रो, 4.5' एशियाई मूल, 1.2' रेड इंडियन व अलास्का मूल, हवाई के निवासी एवं प्रशांत क्षेत्रीय नागरिक एवं 1.7' मिश्रित समूह के हैं।

भाषाएं अमेरिका की प्रमुख भाषा अंग्रेजी है। वहां तकरीबन 82' लोग यह भाषा बोलते हैं। दूसरे स्थान पर स्पेनिश भाषा बोलने वाले हैं। इनकी संख्या 3.45 करोड़ (12') है।
खेल अमेरिका का सर्वाधिक लोकप्रिय खेल बेसबॉल है, जिसे वहां इसे राष्टï्रीय खेल का दर्जा प्राप्त है। इसके अलावा वहां आइस हॉकी, बास्केटबाल, अमेरिकन फुटबाल, गोल्फ, टेनिस भी काफी लोकप्रिय है।

शिक्षा अमेरिका उच्च साक्षरता वाला देश है। वहां के 99' लोग साक्षर हैं। वहां निजी एवं सार्वजनिक दोनों ही तरह के उच्च शिक्षण संस्थान हैं। अमेरिका के तकरीबन 80' छात्र पब्लिक यूनिवर्सिटी में शिक्षा लेते हैं। वहां की यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया को विश्व विरासत सूची में शामिल किया जा चुका है।

प्रशासनिक ईकाई कुल 50 राज्य व 1 जिला*; अलबामा, अलास्का, अरिजोना, अरकंसास, कैलीफोर्निया, कोलोराडो, कनेक्टीकट, डेलावरे, डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलम्बिया*, फ्लोरिडा, जॉॢजया, हवाई, इदाहो, इल्लीन्वॉस, इंडियाना, आइओवा, कंसास, केंटकी, लुइसियाना, माइने, मेरीलैंड, मैसाचुसेट्स, मिशीगन, मिन्नेसोटा, मिस्सीसिप्पी, मिस्सौरी, मोंटाना, नेब्रास्का, नेवादा, न्यू हैम्पशायर, न्यू जर्सी, न्यू मैक्सिको, न्यूयॉर्क, नार्थ कैरोलिना, नॉर्थ डकोटा, ओहियो, ओक्लाहोमा, ओरेगन, पेन्नसिल्वेनिया, रोड आइलैंड, साउथ कैरोलिना, साउथ डकोटा, टेन्नेस्से, टैक्सास, उटाह, वेरमाँट, वर्जीनिया, वाशिंगटन, वेस्ट वर्जीनिया, विस्कॉसिन, व्योमिंग।